Spam score kya hai ise kaise kam kare ~ shoutmeloudonline

Spam score kya hai ise kaise kam kare

Spam score kya hai ise kaise kam kare

What's spam score in hindi full guide 2019, Ise kaise kam kare, ss kaise increase hota hai, spam score kaise check kare, free tool 


आज के समय मे बहुत से ऐसे blogger है। जिन्हें spam score क्या है। इसके बारे में कोई जानकारी नही रहती है। जबकि यह google algoritham के 200 factor में से एक है। यह बहुत ही जरूरी है। कि आप seo की अच्छी जानकारी रखें। यदि आप एक blogger है। तो अपने ब्लॉग को grow कराने के लिए seo की advance जानकारी होनी चाहिए। जिन्हें नही मालूम कि spam score क्या है। वे लोग इस article को पूरा पढ़ें। यदि किसी ब्लॉग का spam score अधिक रहता है। तो google उसे पेनेलाइज कर देता है। जिसकी वजह से कोई भी आर्टिकल या blog rank नही करता है। अगर आप समय रहते अपने ब्लॉग पर ध्यान नही देंगे। तो आपके ब्लॉग को भी पेनाल्टी मिल सकती है। अक्सर इस तरह की गलती तभी होती है। जब ब्लॉग के लिए backlink बनाया जाता है।

Spam score kya hai ise kaise kam kare


spam score क्यों बढ़ता है।

i hope आप जान चुके होंगे। कि spam score क्या है। अब हम लोग जानेंगे। यह कैसे increase होता है। सबसे पहले आपको बता दें। कि spam score किसी वेबसाइट की quality का मापता है।
Moz एक software और web development company  है। इसने सभी blog और वेबसाइट के seo को monitor करके एक उसकी quality के आधार उसे score देती है। यदि किसी वेबसाइट का score 1 से 4 के बीच मे है। तो उसे नार्मल मान सकते है। यदि इससे ऊपर है। तो आपको इसे fix करना होगा। यदि किसी ब्लॉग या वेबसाइट का spam score अधिक है। और वहां से backlink लेते है। तो आपकी वेबसाइट की प्रभावित होती है। इसलिए backlink बनाते समय इस बात का ध्यान जरूर रखें।



spam score kaise check kare

अगर आप अपने वेबसाइट का spam score चेक करना चाहते है। तो यहां क्लिक करके कर सकते हैं search engine में आपको बहुत से free tool मिल जाएंगे। जिसकी help से आप चेक कर सकते है। आपको url में अपने ब्लॉग का यूआरएल लिखकर analysis पर क्लिक करना होता है। इतना काम करने के बाद DA, PA, और spam score की रिपोर्ट आपके सामने होगी। इसके अलावा आप आने chrome browser में moz का free extension tool add कर सकते है। जब आप अपनी webdite के लिए backlink बनाने जाएंगे। उस वेबसाइट का spam score आपके सामने आ जायेगा। कभी भी  backlink बनाने के लिए spammy ब्लॉग या website का यूज नही करना चाहिए।


spam score kaise kam kare

अक्सर नए ब्लॉगर अपनी वेबसाइट को rank कराने के लिए seo करते है। और backlink बनाना on page seo का एक महत्वपूर्ण पार्ट है। जब आप अपनी वेबसाइट पर spamy link बनाते है। तो आपकी वेबसाइट की इस रेंज में आ जाती है। यदि किसी blog का spam score अधिक है। आप वहां से backlink बनाते है। तो आपके ब्लॉग का स्कोर की बढ़ने लगता है। इसलिए backlink बनाते समय इस बात का जरूर ध्यान रखें। और हमेसा high quality website से backlink बनाए।

big site but few backlink

आपको पता होना चाहिए। कि किसी website की qaulity को चेक करने के लिए software का यूज किया जाता है। जिसका अपना एक अलग algoritham है। score चेक करने के लिए moz ने कई factor निर्धारित किए है। यदि आपकी website पर बहुत अधिक low quality website से link juice मिल रहा है। तो आपकी webdite spamy हो सकती है। इसके अलावा यदि आपकी वेबसाइट 4 साल पुरानी है। और आपने 400 आर्टिकल भी लिख रखा है। लेकिन वेबसाइट पर high qaulity website से लिंक नही मिल रहे है। तो moz का bots यह मान लेता है। कि website पर अच्छे article नही है। इसलिए इसे किसी ने लिंक नही दिया है। सब कुछ ऑटोमेटिक है। जो algoritham फिट किया गया है। उस पर ही रिजल्ट आते है।


अपने ब्लॉग के spam score को कम करने के लिए सबसे उस website के ss को चेक करें। जिससे आपके blog पर dofollow link आ रही है। यदि उस वेबसाइट का  ss अधिक है। तो लिंक को remove करें। इसमे समय लगेगा। लेकिन इसे फिक्स करने के लिए यह काम करना पड़ेगा। जब moz bots दुबारा आपके ब्लॉग को scan करेंगे। तो उसकी quality के आधार पर spam score को reduce कर देंगे। इसके process में एक महीने का समय भी लग सकता है। भविष्य में कभी भी spamy blog से bcaklink न बनाएं।

Nofollow and do follow links ratio 

किसी भी वेबसाइट और ब्लॉग को रैंक कराने के लिए seo करना जरूरी होता है। अगर spam score की बात आती है। तो seo करते समय moz के algoritham को भी ध्यान में रखना पड़ता है। nofollow और dofollow backlink बनाते समय इसके ratio पर ध्यान देना बहुत ही जरूरी है। अगर आप इसके ratio को मेन्टेन नही करेंगे। तो आपका blog spammy कैटेगरी में आ सकता है। इसलिए मैने आपसे बताया है। कि आपका blog चाहे जिस नीच पर हो। आपको seo की जानकारी होनी चाहिए। बहुत से प्रोफेशनल ब्लॉगर और मेरे अनुभव के अनुसार किसी ब्लॉग या वेबसाइट में 75% dofollow और 25% nofollow backlink का ratio होना चाहिए। अगर आप ये ratio सही रखते है। तो आपका blog spam क्राइटेरिया में नही आएगा।
 
anchor text 

अगर  ब्लॉग को spam से सेफ रखना है। तो आपको anchor text पर linking एक retio के अनुसार करनी चाहिए। anchor text पर अपने ब्लॉग पोस्ट के यूआरएल को लिंक करें। न कि ब्लॉग के यूआरएल को इसका ratio 1 और 10% का रख सकते है। बहुत अधिक ब्रांड के नाम को लिंक करने से google bots उसे spammy मान लेते है। 

 poor content

बहुत से ब्लॉगर जो नए है। वे कम वर्ड्स में आर्टिकल लिखकर पब्लिस करते है। जिसकी वजह से उनका ब्लॉग पोस्ट रैंक नही होता है। इस तरह के poor आर्टिकल भी इस श्रेणी में आ जाते है। आप अर्टिकल कम से कम 1500 words का जरूर लिखें। ऐसा नही कि जब आप किसी टॉपिक पर ठीक तरीके से समझाकर कोई अर्टिकल लिखेंगे। तो इससे अधिक नही होगा।
Use Maximum external links

अक्सर देखा गया है। कि बहुत सी new ब्लॉग या website का spam score अधिक हो जाता है। seo की अच्छी जानकारी नही होने की वजह से लोग अपने blog को रैंक कराने और अन्य ब्लॉग को backlink देने के लिए अपने blog में अधिक external link का उसे करते है। जिसकी वजह से उनकी वेबसाइट spamy हो जाती है। इसलिए इस प्रकार की गलती न करें। इसका भी एक ratio होता है। अगर आपके blog में 1200 वर्ड्स वाला आर्टिकल है। तो आप एक external लिंक का यूज कर सकते है।


No contact page

आप सभी जानते है। spam score को मेजर करने वाली website moz है। अगर आपके blog या वेबसाइट में contact page नही है। तो उसे spammy मान लिया जाएगा। इसलिए इस तरह की गलती करने से बचे। आपकी वेबसाइट में सभी आवश्यक पेज और social मीडिया बटन होने आवश्यक है।

No use numerical domain's name 


Moz वेबसाइट spam स्कोर को मेजर करने के लिए बहुत से पैरामीटर निर्धारित किए है। जो भी domain name से भी संबंधित है। अक्सर आपने देखा होगा। कि domain के बाद कुछ नम्बर जुड़े होते है। इस प्रकार के domain को moz spamy मान लेता है। इसलिए इस प्रकार की गलती न करें। इसके अलावा अपने ब्लॉग पोस्ट में बहुत अधिक anchor text linking न करें।

TLD with spam domain 

अगर आप bloging में कैरियर बनाना चाहते है। तो आपको top level domain ही खरीदना चाहिए। जो लोग sub domain लेकर blog शुरू करते है। उनकी वेबसाइट रैंक नही करती है। इस प्रकार की domain को moz स्पेमी की श्रेणी में रखता है। 


Maximum external links in navigation bar 

बहुत से ब्लॉगर अपने blog के footer और sidebar में किसी दूसरी वेबसाइट का लिंक add करते है। इस प्रकार की गलती करने वाले blog का spam score increase हो जाता है। आप कभी भी ओस प्रकार की गलती न करें। अगर ऐसा चुके है। तो उसे remove करें। जब आप इसे remove कर देंगे। तो moz जब भी दुबारा आपकी website को scan करेगा । तो उसे fix कर देगा।  

Low internal linking 

आपको blog पोस्ट लिखते समय उस article से संबंधित अन्य blog पोस्ट को लिंक जरूर करें। जिसकी वेबसाइट में internal linking कम होती है। उसका spam score बढ़ जाता है। अगर आप blog में strong internal linking करते है। तो आपके blog का bounce rate भी reduce होगा। जो blog को rank कराने के help करेगा। इसके अलावा आपके पुराने पोस्ट भी पढ़े जाएंगे।
 

Low words count in blog 

बहुत से blogger इस तरह की गलती करते है। अगर आपका ब्लॉग post 300 से 500 words में होगा। और वह rank कर जाएगा। तो आपके blog का spam score बढ़ जाएगा। आप जब भी पोस्ट लिखें। आपका आर्टिकल 1000 words का होना चाहिए। इससे कम है। तो उसे modify करें। कम words वाले article को ranking नही मिल पाती है।

Conclusion- 
आज के इस पोस्ट में आपने जानकारी प्राप्त की है। कि spam score क्या होता है। इसे कौन सी website मेजर करती है। आपकी website का स्पैम score क्यों बढ़ता है। इसे कैसे कम करते है। सभी जानकारी आपको provide कराई गई है। इस जानकारी को आप अपने दोस्तों और नए ब्लोगर के साथ शेयर जरूर करें। blogging से संबंधित किसी भी समस्या का समाधान चाहते है। तो कॉमेंट करें। 


Previous
Next Post »

1 comments:

Click here for comments
Mike
admin
20 May 2019 at 00:13 ×

Hello sir

Mere website par 28% spam score hai to me ise kese shi kr skta hu

1. Domain change krna hoga ya fir asa koi trika hai jis se me Spam score jaldi kam kar skata hu

Congrats bro Mike you got PERTAMAX...! hehehehe...
Reply
avatar

thanks for visiting blog ConversionConversion EmoticonEmoticon