Bounce Rate kam karne ke upay 2019 ~ shoutmeloudonline

Bounce Rate kam karne ke upay 2019

Bounce Rate kam karne ke upay 2019 


(Reduce bounce rate) 2019

आज आपको इस article में bounce रेट कम करने कुछ बेस्ट टिप्स बताये जाएंगे। जिन्हें follow करके आप अपनी website या blog को improve कर सकते है। 

Reduce blog bounce rate

अगर आप एक ब्लॉगर है। और आपके पास कोई blog और website है। तो आप bounce rate के बारे में जरूर जानते होंगे। इसका आपकी website या blog की ग्रोथ पर क्या असर पड़ता हैं। यह आप जानते होंगे। अगर नही जानते है। तो article को पूरा पढ़िए। यह आपके blogging career को आगे बढ़ा भी सकता है। और डुबा भी सकता है। इसका पता आप google analytics से लगा सकते है। यहां आपको आपकी website के बारे में पूरी analisys होती है। आपकी वेबसाइट इसमें रजिस्टर या सबमिट होनी चाहिए। यह भी seo का एक महत्वपूर्ण भाग है। इसकी जानकारी होना नितांत आवश्यक है। अगर website का bounce rate increase होता है। तो आपका blogging career बर्बाद हो सकता है। इसे reduce करने का प्रयास करें।


#1. What Is Bounce rate? बाउंस रेट क्या है 

अगर आप अपनी website या blog पर 1000 words का article लिखते है। तो google इसका बात का पता लगा लेता है। कि यह article कितनी देर में पढ़ा जा सकता है। उदाहरण के लिए अगर यह article 20 मिनट में पढ़ा जा सकता है। और  आपकी website पर 10 यूजर आते है। और 2 मिनट पढ़कर बैक हो जाते है। तो इसका मतलब की आपकी वेबसाइट का बाउंस rate 80% है। यानी कि increase हुआ है। आप समझ सकते है। कि आपके article को यूजर सिर्फ 20% समय देखकर पढ़ें है। ऐसा क्यों हुआ है। इसका पता लगाएं। और bounce rate को reduce करने का प्रयास करें। यानी यूजर आपके article को 9 से 10 मिनट तक पढ़ें। अब आप यह समझ गए होंगे। कि bounce rate क्या होता है। कुल मिलाकर यूजर आपकी site पर कितनी देर रुकता है। चाहे वह आपके article को पढ़कर रुके। या दूसरे article लिंक पर क्लिक करके रुके या आपके वीडियो को देखकर रुके। किसी भी तरह से यूजर को blog पर रोकना है।
यह भी पढ़ें: 




इसके अलावा आप ऐसे भी समझ सकते है।यदि आपकी website पर 10 लोग आए और 8 लोग बिना कुछ पढ़ें ही चले गए। तो google analytics तुंरत आपके ब्लॉग के bounce rate को 80% दिखायेगा। आप यूजर को रोके। तभी आप bloging के क्षेत्र में सफल होंगे।


#2. Bounce Rate Kitna Hona Chahiye?

अगर आपको नही मालूम है। कि blog या website का bounce rate कैसे देखा जाता है। तो आप अपने google analytics को login करके देख सकते है।
अगर आपके blog या website का bounce rate 10 से 20% तक है। तो यह बहुत ही अच्छा माना जाता है। अगर आपका बाउंस rate इतना है। तो इसे excellent माना जायेगा।



Very Good Bounce Rate-अगर site का bounce rate 25% या इससे भी कम रहे तो perfect माना जायेगा। जबकि 50 से 60 के बीच है तो इसे improve करें।

#3. Bounce rate kam Kaise Karta hai ?

अभी आप जान चुके है।कि बाउंस rate कितना परफेक्ट माना जाता है। अगर यह high है। तो इसके लिए आपको कठिन परिश्रम करना चाहिए। आज के इस article के आपको bounce rate reduce करने के best tips बताये जाएंगे। so इसे पूरा पढ़ें।

1) Quality Contents


आप article लिखने से पहले बात को ध्यान मेंबरखें। कि आप article किसके liye लिख रहे है। आपकी website पर Quality  content होना चाहिए। जो आपके यूजर के problem को solve करें। अगर आप ऐसा नही करेंगे। तो आपके blog पर कोई यूजर क्यों रुकेगा। seo की दृष्टि से quality content आपके ब्लॉग growth को increase करेगा। और यूजर आपके फैन बन जाएंगे। जिसकी वजह से वे हमेसा आपकी site को visit करेंगे। तब आपकी site का bounce rate reduce होगा। और traffic बढ़ेगा।

Quality content नही होने पर यूजर आपके blog पर जानकर वापिस आ जाएंगे। इसका सीधा सा मतलब है। कि आपका article उन्हें समझ मे नही आया। या उन्हें बोरिंग महसूस हुआ। तो देर किस बात की इस समस्या को फिक्स करें। क्योंकि यह article यूजर हेल्प के लिए ही लिखा जाता है।  इसके अलावा आपका आर्टिकल 1000 words से अधिक का होना चाहिए।


इन बातों की भी ध्यान में रखें।

1-article का title आकर्षक होना चाहिए।ताकि यूजर तुरन्त क्लिक करें।

2- आर्टिकल में sub heading का यूज जरूर करें। यह आपके पोस्ट को अट्रैक्टिव बना देगा।

3- ponts देकर आर्टिकल को explain करें। यह यूजर के लिए बेहतर होगा।

4- blog पोस्ट में eye-catching images का यूज करें। लेकिन इमेज का size 100 kb से अधिक न हो। compress करके इमेज यूज कर सकते है।

5- आवश्यक words को बोल्ड करें। और जहां जरूरत हो। वहां question mark का यूज करें।
6-  Content के लास्ट में पोस्ट का  "Conclusion" जरूर लिखें।

blog की Readability चेक करने के लिए  www.Read-able.com का यूज करें।


2)Website में pop up ads का यूज न करें। 

bounce rate increase होने के पीछे pop up ads बहुत बड़ी वजह है। बहुत से blog पर subs और अन्य कई तरह के popup आते है। जो यूजर को इरिटेट करते है। और इसकी वजह से यूजर ब्लॉग को स्किप कर जाते है। आप इस बात को ध्यान में रखे। कि यूजर के पढ़ने में कोई दिक्कत नही होनी चाहिए।


3) Blog Par पर नियमित आर्टिकल publish करें 


Bounce rate को कंट्रोल करने के लिए आपको नियमित समय पर फ्रेस आर्टिकल पब्लिश करना चाहिए। सभी लोग कुछ नया पढ़ना चाहते है। article useful होना चाहिए।

4) Blog के लिए Perfect Meta Description लिखें। 


Meta Description से ही कोई यूजर आपके ब्लॉग के बारे में जान पाता है। meta description के यूज से blog search में पहले आता है। जब कोई यूजर आपके blog के डिस्क्रिप्सन से सम्बंधित keyword सर्च करता है। तो आपकी website
गूगल search में आती है। Meta Description एक Html Code होता है। 
जो यह बताता है। कि आपका webpage किस टॉपिक के बारे में है। सभी search engine keyword को search करने के लिए meta description का यूज करते है। यह आपके bounce rate को reduce करेगा। 

5) page  की Loading Speed को Increase करे 

किसी भी Website या blog की  Loading Speed का इफेक्ट blog के 

SEO, Traffic, ranking, Income पर  pa पड़ता है। और इसके अलावा यह  Bounce Rate को भी इफेक्ट करता है। जब आपकी website या blog देर से open होगा। तो यूजर तुरन्त आपकी site को स्किप कर देगा।  
जब आपके ब्लॉग का पेज देर से खुलेगा। तो आपका bounce rate increase होगा। इसलिए blog के loading time को improve करें। 

6) अपने blog को Mobile Friendly बनाए 

क्या आपकी website या blog  Responsive है? क्या यह सभी तरह के device पर open होती है। 
साइट की loading speed के साथ ही यह mobile  Friendly भी होनी चाहिए। 
90% से ऊपर यूजर मोबाइल का यूज करके आपकी website पर आते है। अगर आपका blog Mobile Friendly होगा। तो blog कब Bounce Rate कंट्रोल होगा। 

7) Internal Links का यूज करें 

High Bounce rate को reduce करने के लिए आप अपने ब्लॉग के दूसरे सम्बंधित आर्टिकल का लिंक इन्सर्ट करें। ताकि यूजर आपके दूसरे blog पोस्ट को पढ़ने में व्यस्त रहे। आप सोच सकते है। यदि आप ऐसा नही करते है। तो यूजर आपके उस ब्लॉग पोस्ट को पढ़ने के बाद आपकी website को स्किप नही करेगा। तो और क्या करेगा?
यह भी पढ़ें: 

कुछ महत्वपूर्ण tips 

1-blog पोस्ट में बहुत अधिक article लिंक न करें। संबंधित artcile के लिंक ही एड करें। 

2- लिंक में keyword का यूज करें। ऐसा करने से ब्लॉग का on page seo हो जाएगा। 

3- लिंक का title इतना आकर्षक होना चाहिए। कि यूजर न चाहते हुए भी उस पर क्लिक करके पढ़ें। 

4- लिंक को ऐसे स्थान पर जोड़े की यूजर को post पढ़ने में दिक्कत न हो। लिंक को highlight रखें। 

Conclusion

आज के इस article में आपने सीखा bounce rate क्या होता है। bounce rate को कैसे reduce करना चाहिए। यह आपके ब्लॉग ट्रैफिक को कैसे increase करेगा। blogging में सफल होने के लिए इसे जरूर फॉलो करें। यह आपको एक successful ब्लॉगर बनाने में हेल्प करेगा। 

उम्मीद है कि यह पोस्ट आपको जरूर पसंद आई होगी। अब आप समझ चुके होंगे। कि bounce rate को कैसे reduce किया जायेगा। इस पोस्ट को अपने फ्रेंड्स के साथ शेयर करें। ताकि उन्हें भी हेल्प मिल सके। 
हां एक बात और आप अपने कीमती सुझाव कॉमेंट बॉक्स में जरूर लिखें। आपके सुझावों का हॄदय से स्वागत है। 

Previous
Next Post »

thanks for visiting blog ConversionConversion EmoticonEmoticon